निकला हुआ पेट बिना मेहनत किए अंदर हो जाएगा, इन साधारण घरेलू नुस्खों से

निकला हुआ पेट बिना मेहनत किए अंदर हो जाएगा, इन साधारण घरेलू नुस्खों से

कम उम्र में मोटापा आजकल एक ऐसी समस्या है, जिससे कई युवा ग्रस्त हैं। मोटापे के कारण कई तरह की बीमारियां शरीर को घेर सकती हैं। अधिकांश लोग शुरुआत में मोटापा बढऩे पर ध्यान नहीं देते हैं, लेकिन जब मोटापा बहुत अधिक बढ़ जाता है तो उसे घटाने के लिए घंटों पसीना बहाते रहते हैं। मोटापा घटाने के लिए खान-पान में सुधार जरूरी है। कुछ प्राकृतिक चीजें ऐसी हैं, जिनके सेवन से वजन नियंत्रित रहता है। इसीलिए यदि आप वजन कम करने के लिए बहुत मेहनत नहीं कर पाते हैं तो अपनाएं नीचे लिखे छोटे-छोटे उपाय। ये आपके बढ़ते वजन को कम देंगे।
  • – सब्जियों और फलों में कैलोरी कम होती है, इसलिए ये अधिक खाएं। केला और चीकू न खाएं। इनसे मोटापा बढ़ता है।
  • – चाय में पुदीना डालकर पीने से मोटापा कम होता है।
  • – खाने के साथ टमाटर और प्याज का सलाद काली मिर्च व नमक छिड़क कर खाएं। इससे आपको विटामिन सी, विटामिन ए, विटामिन के, आयरन, पोटैशियम, लाइकोपीन और ल्यूटिन एक साथ मिलेंगे।
  • रोज पपीता खाएं। लंबे समय तक पपीता के सेवन से कमर अतिरिक्त चर्बी कम होती है।
  • – दही का सेवन करने से शरीर की फालतू चर्बी घटती है।
  • – छोटी पीपल का बारीक चूर्ण कर उसे कपड़े से छान लें। इस चूर्ण को रोजाना तीन ग्राम मात्रा में सुबह के समय छाछ के साथ लें। इससे निकला हुआ पेट अंदर हो जाता है और कमर पतली हो जाती है।
  • – पत्तागोभी में चर्बी घटाने के गुण होते हैं। इससे शरीर का मेटाबॉलिज्म सही रहता है।
  • – एक चम्मच पुदीना रस और 2 चम्मच शहद मिलाकर लें। इससे मोटापा कम होता है।
  • – सुबह उठते ही 250 ग्राम टमाटर का रस 2-3 महीने तक पीने से वसा में कमी होती है।
  • सूखे आंवले व हल्दी को पीसकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को छाछ के साथ लें, कमर एकदम पतली हो जाएगी।
  • – अगर मोटापा कम नहीं हो रहा है, तो खाने में कटी हुई हरी मिर्च या काली मिर्च को शामिल करके वजन को काबू में किया जा सकता है। एक रिसर्च में पाया गया कि वजन कम करने का सबसे बेहतरीन तरीका मिर्च खाना है। मिर्च में पाए जाने वाले तत्व कैप्साइसिन से जलन पैदा होती है, जो भूख कम करती है। इससे ऊर्जा की खपत भी बढ़ जाती है, जिससे वजन कंट्रोल में रहता है।
  • – दो बड़े चम्मच मूली के रस में शहद मिलाएं। इसमें बराबर मात्रा में पानी मिलाएं और पिएं। ऐसा करने से 1 माह के बाद मोटापा कम होने लगेगामालती की जड़ को पीसकर उसे शहद में मिलाएं और उसे छाछ के साथ पिएं। प्रसव के बाद होने वाले मोटापे में यह रामबाण की तरह काम करता है।
  • – रोज सुबह-सुबह एक गिलास ठंडे पानी में दो चम्मच शहद मिला कर लीजिए। इस घोल को पीने से शरीर से वसा की मात्रा कम होती है।
  • – ज्यादा कार्बोहाइड्रेट वाली वस्तुओं से परहेज करें। शक्कर, आलू और चावल में अधिक कार्बोहाइड्रेट होता है। ये चर्बी बढ़ाते हैं।
  • – केवल गेहूं के आटे की रोटी की बजाय गेहूं, सोयाबीन और चने के मिश्रित आटे की रोटी ज्यादा फायदेमंद है।   

 

Header Image

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *